Funny Jokes Videos Status


Professional Website Design

#Basic @ Rs 4999 #Premium @ Rs 9999


Responsive Website Design

Starts from $ 199

Professional websites that works fast and responsive on any mobile screen size, tablet, browser, app or device.

Order Now

Responsive Website Design

Starts from $ 199

Professional websites that works fast and responsive on any mobile screen size, tablet, browser, app or device.

Order Now

Bedi Screwed Up The Question – How Did Dhoni Just Leave The 50% Penalty ?

MS Dhoni

पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी ने ‘डरपोक’ अधिकारियों को आड़े हाथों लिया, जिन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर आईपीएल मैच के दौरान मैदानी अंपायरों से बहस करने के लिए 50 प्रतिशत मैच फीस का जुर्माना लगाया.

पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी ने ‘डरपोक’ अधिकारियों को आड़े हाथों लिया, जिन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर आईपीएल मैच के दौरान मैदानी अंपायरों से बहस करने के लिए 50 प्रतिशत मैच फीस का जुर्माना लगाया.

यह घटना चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच जयपुर में खेले गए आईपीएल मैच के दौरान घटी थी.

पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर संजय मांजरेकर का मानना है कि धोनी अंपायर के साथ हुई अपनी इस बहस के बाद सस्ते में ही छूट गए. मांजरेकर ने ट्वीट करते हुए कहा, मैं हमेशा धोनी का बड़ा प्रशंसक रहा हूं, लेकिन उन्‍होंने सीधे तौर पर लक्ष्‍मण रेखा पार की है. वे खुशकिस्‍मत रहे कि बेहद छोटा जुर्माना देकर बच गए.

आईपीएल के वर्तमान सत्र में अंपायरिंग का स्तर लगातार चर्चा का विषय रहा है और मुंबई इंडियंस के क्रिकेट संचालन निदेशक और पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान का मानना है कि अंपायरों पर जितना अधिक दबाव बनाया जाएगा, मुश्किलें उतनी अधिक बढ़ेंगी.

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आईपीएल मैच के दौरान अपने व्यवहार के विपरीत डगआउट से उठकर अंपायर उल्हास गांधे के फैसले को चुनौती देने के लिए मैदान पर जाना चर्चा का विषय बना हुआ है.

जहीर ने इस संदर्भ में कहा, ‘मेरा मानना है कि कई चीजों में सुधार हुआ है और सुधार के लिए हमेशा गुंजाइश रहती है. इसलिए अंपायरिंग के स्तर की बात करें तो यह आसान काम नहीं है और आप उन पर (अंपायरों) जितना अधिक दबाव बनाओगे, मुश्किलें उतनी अधिक बढ़ती जाएंगी.’

उन्होंने कहा, ‘आप जानते हैं कि जब तक सही फैसला होगा तब तक चीजें सही रहेंगी. हां इस टूर्नामेंट में हमने देखा जबकि चीजें सीमा से थोड़ा बाहर चली गईं, लेकिन अगर पूरे मैच के दौरान अंपायरिंग में निरंतरता हो, तो फिर कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए.’

Category : Cricket

Leave a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



0 Comments

    Cinema

    Gadgets

    Photo Gallery

    Wallpapers